” फिर से बलात्कार “

सोच के दायरे कम होते जा रहे हैं , ऐसी घटनाएं आसपास घट जाती है कि इंसान की सोचने समझने की शक्ति खत्म हो जाती है । हाथरस में घटी उस भयावह घटना ने मेरे हृदय को झकझोर दिया । कितने ही सालों से हम यह राग अलापते आ रहे हैं की बेटियों की सुरक्षाContinue reading “” फिर से बलात्कार “”

” बिटिया “

वैसे तो प्रत्येक दिन बेटियों के लिए खास होता है परंतु आज के दिन की बात ही कुछ और है और आज मेरे लिए ज्यादा खास है क्योंकि आज संयोगवश मेरी बिटिया का जन्म दिवस है । अपनी बिटिया और हर एक बेटी के लिए आज की कविता मां की कलम से। बेटी है भगवानContinue reading “” बिटिया “”

” इंसान का जिस्म “

इंसान का जिस्म क्या है ?जिस पर इतराता है जहां ,बस एक मिट्टी की इमारत ,एक मिट्टी का मकां ,खून तो गारा है इसमेंऔर ईंटे है हड्डियां ,चंद सांसों पर खड़ा है ,यह ख्याली आसमां ,मौत की पुरजो़र आंधीइससे जब टकराएगी ,जितनी भी महंगी हो ये इमारत टूटकर बिखर जाएगी ।

“SUFFOCATION”

Suffocation is not only in the environment . It is deep down . We can control the environmental suffocation sooner or later but mental suffocation in other words mental stress can’t be healed easily . Everybody across the world of all the age groups are stressed . Stress levels might differ but it makes ourContinue reading ““SUFFOCATION””

” कोरोना वार्ड “

आज ना जाने क्यों मन विचरते हुए करोना वार्ड में चला गया , सब की बेबसी देख दिल दहल गया । इंटेंसिव केयर यूनिट खचाखच भरा हुआ था और वार्ड भी । पीपीई किट में नर्सेज और स्टाफ मानो खुद से ही जंग लड़ रहे थे । हम सोच भी नहीं सकते कितना कठिन हैContinue reading “” कोरोना वार्ड “”

” छोटा खोटा नहीं होता “

जरूरी नहीं आकार में छोटा जंतु कमजोर हो ,क्योंकि एक छोटी सी चींटी हाथी को कर देती है धराशाई ,जरूरी नहीं आकार में छोटा व्यक्ति कमजोर हो ,क्योंकि सचिन के बल्ले में असीम प्रतिभा है समाई ,लाल बहादुर शास्त्री जी ने नाटे होकर भीराजनीति में बनाई अलग पहचान ,छोटे कद का नेपोलियन बना सेनानायक महानContinue reading “” छोटा खोटा नहीं होता “”