Blog

“आंसू “

खारे खारे से आंसू ,एक सशक्त सहारे आंसू ,काश तुम बोल पाते ,मन की गिरह खोल पाते ,यूं तो अविरल बहते जाते हो ,हर सुख – दुख में साथ निभाते हो ,किसी पर हुए अन्याय को सह ना पाते हो ,मन के कृंदन को तुम्ही तो दर्शाते हो ,पर कुछ कह क्यों ना पाते होContinue reading ““आंसू “”

” KARMA”

” You sow what you reap ” is a common proverb often forgotten in distress . People crib , cry and hold God responsible for all the sufferings they are going through .People ignore their blessings . Problems given by God to us are jist for checking our patience and are the testing points byContinue reading “” KARMA””

” मां – बाप “

जिस बच्चे को दुनिया में लाने के लिएमां सौ दुख झेलती है ,वही मां आज किसी काम की नहीं ,जो बाप बच्चे की हर सुख – सुविधा के लिएअपनी हर खुशी का बलिदान देता है ,उसे ही दुनियादारी की समझ नहीं ,जिस छोटे बच्चे की तुतलाती भाषामां-बाप झट से समझ जाते थे ,आज वही बच्चाContinue reading “” मां – बाप “”

” N R I का दर्द “

बेगानी धरती पर ,बेगाने देश में रहना आसां नहीं ,पर यह दर्द किसी को दिखता नहीं ,दिखता है तो आधुनिक जीवन ,लुभाती है उनकी मोटी इनकम ,हंसते मुस्कुराते चहरों का दर्द देखा है मैंने ,परिजनों से दूर दुख – दर्द अकेले पड़ते हैं सहने ,हर तीज त्योहार में अपनों की याद अकसर आ ही जातीContinue reading “” N R I का दर्द “”

” SACRIFICE “

Each one of us make sacrifices for our loved ones . Some are acknowledged and some are left unnoticed . It is believed that Mothers are the givers they sacrifice a lot for the kids but nobody speaks about the sacrifices made by a Father . Being a mother I understand what we go throughContinue reading “” SACRIFICE “”

“बिरयानी सी शादी”

आज मेरे लेख का विषय कुछ अटपटा लगेगा आपको और मैं कोशिश करूंगी कि आपको अपना मंतव्य समझा सकूं । बिरयानी का नाम लेते ही मुंह में तरह-तरह के स्वाद घुलने लगते हैं , तीखा , करारा और चटपटा सा । शादी भी तो बिरयानी की तरह ही मसालेदार और चटपटी है, जिसमें तीखा स्वादContinue reading ““बिरयानी सी शादी””

” WHY ? “

Why do people expect so much from me ?I am also a human not God ….Why am i always criticized ?I do have a perspective ….Why do people behave fake in front of me ?I do know their real faces ….Why people take me for granted ?I do have some existence ….Why am i easilyContinue reading “” WHY ? “”

Loading…

Something went wrong. Please refresh the page and/or try again.


Follow My Blog

Get new content delivered directly to your inbox.

%d bloggers like this: